Home / breaking news
सिविल सर्जन ने टीम भावना से बदली सदर अस्पताल की सूरत
Image

सिविल सर्जन ने टीम भावना से बदली सदर अस्पताल की सूरत
औचक निरीक्षण से निजी अस्पतालों में मचा हड़कंप
अफसर की इच्छाशक्ति से कैसे किसी संस्थान का कायाकल्प हो सकता है यह देखना है तो सदर अस्पताल जमशेदपुर जाकर देखें
कुछ कर दिखाने का जुनून के संकल्प के साथ पदभार ग्रहण करने वाले सिविल सर्जन डॉक्टर महेश्वर प्रसाद अस्पताल के लिए बेझिझक मांगते हैं दान
अस्पताल में डॉ महेश्वर प्रसाद द्वारा कराए जा रहे कायाकल्प के कामों की सराहना हाल ही में केन्द्र से राज्य सरकार ने किया है तथा अच्छे कार्यों के लिए प्रशस्ति पत्र भी मिला है सदर अस्पताल को
उन्होंने जनभागीदारी के माध्यम से सदर अस्पताल के वार्डों का रिनोवेशन और वार्ड बनवाकर अस्पताल को प्राइवेट अस्पताल की बराबरी पर लाकर खड़ा कर दिया है।
दूसरी तरफ निजी अस्पतालों का औचक निरीक्षण करना भी इनकी दिनचर्या में शामिल है अखबार की एक छोटी सी कतरन पर गंभीर सिविल सर्जन ने कल टीएमएच का भी औचक निरीक्षण किया वही टिनप्लेट अस्पताल के निरीक्षण के दौरान कई खामियां इन्होंने देखें और प्रबंधन को इसे दुरुस्त करने का निर्देश भी दिया इस और निरीक्षण के बाद प्रबंधन की बेचैनी स्पष्ट रूप से देखी गई है सिविल सर्जन ने प्रबंधन को स्पष्ट रूप से आदेश दिया है कि अल्पाहार के निबंधन के साथ साथ साफ सफाई का ध्यान रखना भी आप की जवाबदेही है
निजी अस्पतालों के निरीक्षण के लिए सिविल सर्जन ने उपायुक्त अमित कुमार के निर्देश पर एक टीम का भी गठन किया है जो टीम निजी नर्सिंग होम के साथ साथ झोलाछाप डॉक्टरों पर भी नजर रखने का काम करेगा आए दिन मिल रहे शिकायतों के आधार पर टीम का गठन किया गया है
सिविल सर्जन महेश्वर प्रसाद द्वारा चलाए जा रहे अभियान से प्राइवेट अस्पतालों में दहशत व्याप्त है वही कई डॉक्टरों का टीम इन्हें अपना निशाना बनाने के लिए मौके की तलाश में भी लगे हैं