Home / breaking news
शव को पुलिस ने कोलकाता लाने से रोका, रास्‍ते में ही सजायी गई चिता
Image

कोलकाता: पुलिस ने भाजपा नेताओं को संदेशखाली में हिंसा में मारे गये दो भाजपा समर्थकों प्रदीप मंडल व सुकांत मंडल के शव को कोलकाता लाने से रोक दिया. जिसके बाद भाजपा नेताओं ने मालांचो मोड़ के रास्ते पर ही अंतिम संस्कार करने की धमकी दी.रविवार को प्रदेश भाजपा के अध्यक्ष दिलीप घोष के नेतृत्व में राहुल सिन्हा, लॉकेट चटर्जी, सायंतन बसु सहित अन्य नेताओं का प्रतिनिधिमंडल संदेशखाली गया था. वहां भाजपा नेताओं ने पीड़ित परिवारों से मुलाकात की तथा मृतकों के शव को लेकर कोलकाता रवाना हुए, लेकिन मीनाखां के मालांचो मोड़ पर पुलिस ने शववाहिनी वाहन को रोक दिया.पुलिस शवों को कोलकाता ले जाने की अनुमति देने से इनकार कर दिया है. प्रदेश भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष ने आरोप लगाया कि तृणमूल समर्थकों ने पार्टी समर्थक की हत्या कर दी है. पुलिस की उपस्थिति में हत्या की गयी. कुल आठ लोगों की हत्या हुई है. इनमें से दो के शव मिले हैं तथा छह लोगों के शव अभी तक नहीं मिल पाये हैं. वे लोग मृतक के परिजनों की अनुमति से शवों को कोलकाता ले जाना चाहते हैं तथा पार्थिव शरीर पर माल्यार्पण किया जायेगा तथा नीमतला घाट में अंतिम संस्कार करेंगे, लेकिन पुलिस इसकी अनुमति नहीं दे रही है.भाजपा के राष्ट्रीय सचिव राहुल सिन्हा ने सवाल किया कि क्या मृतकों के परिवार को अपनी इच्छा से शवों का अंतिम संस्कार करने की अनुमति नहीं है. उन्होंने धमकी दी है कि यदि पुलिस कोलकाता शव ले जाने की अनुमति नहीं देती है, तो वे लोग रात भर यहीं रहेंगे.उन्होंने धमकी दी है कि यदि शव ले जाने की अनुमति नहीं दी गयी, तो वे लोग यहीं शव का अंतिम संस्कार करेंगे. घटनास्थल पर भारी संख्या में पुलिस की तैनाती की गयी है तथा भाजपा नेताओं को रोक रखा है.

Latest Post