Home / breaking news
धार्मिक स्वतंत्रता पर प्रतिबंध लगाने का दुस्साहस ना करें स्कूल प्रबंधन : अंकित
Image

धार्मिक स्वतंत्रता पर प्रतिबंध लगाने का दुस्साहस ना करें स्कूल प्रबंधन : अंकित

जमशेदपुर के गोलमुरी स्थित केरला समाजम मॉडल स्कूल में प्राइमरी कक्षा के सिख छात्र की पगड़ी उतारने के मामले को दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए भारतीय जनता पार्टी के जिला प्रवक्ता अंकित आनंद ने तीव्र प्रतिक्रिया व्यक्त किया है। भाजपा प्रवक्ता ने स्कूल प्रबंधन पर धार्मिक भावनाएँ आहत करने का आरोप लगाते हुए कहा कि सिख समाज के गौरवपूर्ण इतिहास से शायद केरला समाजम स्कूल प्रबंधन अनभिज्ञ है। स्कूली टीचरों को धार्मिक स्वतंत्रता में अवरोध उतपन्न करने का कोई अधिकार नहीं है। कहा कि क्वालिटी एजुकेशन का दावा करने वाली स्कूल “सिख समाज” के पराक्रमी और अद्वितीय योगदान वाले इतिहास को कैसे भुला सकती है। अंकित ने कहा कि स्कूली टीचरों में धार्मिक विषयों की जानकारी का अभाव ही ऐसे घटनाओं को जन्म देता है। भाजपा जिला प्रवक्ता ने इस घटना पर जिला प्रशासन से कड़ी कार्यवाई की माँग किया। कहा की जमशेदपुर के निज़ी स्कूल संविधान और क़ानून की अवमानना कर रहे हैं। बीते एक वर्ष में निज़ी स्कूलों में हिन्दू संस्कृति और मान्यताओं पर रोक लगाने सम्बंधित कई मामले प्रकाश में आये हैं। प्रशासनिक स्तर पर उचित कार्यवाई के अभाव से ही लगातार ऐसी घटनाओं की पुनरावृत्ति हो रही है। कहा कि बीते वर्ष ही साकची स्थित प्रमुख अंग्रेज़ी माध्यम निज़ी स्कूलों में माथे पर तिलक लगाने और हाथों में मेहँदी लगाकर स्कूल आने वाले छात्र-छात्राओं को स्कूल में प्रवेश नहीं दिया गया था एवं अनुशासनात्मक कार्यवाई कर सस्पेंड किया गया था। भाजपा जिला प्रवक्ता ने कहा कि निज़ी स्कूलों में अनुशासन के नाम पर धार्मिक स्वतंत्रता और संस्कृति को नष्ट किये जा रहे हैं जिसपर कड़ी कार्यवाई होनी चाहिए।

 

Latest Post