Home / breaking news
अलीगढ़ में मासूम की हत्‍या पर पूरे देशभर में गुस्‍सा
Image

अलीगढ़: तीन वर्ष की मासूम बच्ची की नृशंस हत्या के मामले में लापरवाही बरतने के आरोप में टप्पल थाना प्रभारी सहित पांच पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया गया है. बच्ची 30 मई को गायब हुई थी लेकिन मामला 31 मई को दर्ज किया गया. मृतक बच्ची के शव से लिए गए नमूने फरेंसिक लैब में जांच के लिए भेजे गए हैं. एसपी ग्रामीण की अध्यक्षता में मामले की जांच के लिए एसआईटी बनाई गई है. इसमें फरेंसिक साइंस टीम, स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप (एसओजी) और विशेषज्ञों की टीम फास्ट ट्रैक आधार पर जांच करेगी.’ मामले में पॉक्सो ऐक्ट लगाया गया है और दोषियों पर कड़ी कार्रवाई होगी. फरार आरोपी की जल्द ही गिरफ्तारी की जाएगी.उधर, बच्ची की मां ने दोषी को मौत की सजा देने की मांग की है. मां ने केंद्र की मोदी और प्रदेश की योगी सरकार से अपील की है कि दोषियों को कड़ी सजा दी जाए. उन्होंने कहा है, हम चाहते हैं कि उसे मौत की सजा दी जाए वरना वह 7 साल बाद जेल से बाहर आया तो उसकी हिम्मत और बढ़ जाएगी.उन्होंने आरोप लगाया कि सहआरोपी असलम ने अपनी ही चार साल की बेटी तक का रेप कर दिया था. उन्होंने कहा कि उस दिन के बाद उसकी पत्नी बेटी को लेकर हमेशा के लिए अपने मायके चली गई. वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक आकाश कुलहरि ने बताया कि पुलिस क्षेत्राधिकारी पंकज श्रीवास्तव द्वारा की गयी जांच के आधार पर गुरुवार को निलंबन की कार्रवाई की गई.उन्होंने बताया कि मामले की आगे जांच के लिए पुलिस अधीक्षक ग्रामीण एवं एक महिला इंस्पेक्टर सहित छह सदस्यीय विशेष जांच टीम एसआईटी बनाई गई है. कुलहरि ने बच्ची के पिता बनवारी लाल शर्मा से मुलाकात कर उन्हें समझाया बुझाया कि वह आमरण अनशन न करें . शर्मा ने आमरण अनशन की धमकी दी थी. बच्ची के पिता की मांग है कि हत्यारों के परिवार वालों को भी गिरफ्तार किया जाना चाहिए. ये था मामला बच्ची के माता-पिता ने आरोपियों से पचास हजार रुपए उधार लिए थे जिसमें से चालीस हजार रुपए वापस किए जा चुके थे. केवल दस हजार रुपए का लेनेदेन बाकी रह गया था.इस पर एक रोज आरोपी ने बच्ची के पिता को रोककर पैसे लौटाने को कहा तो दोनों के बीच विवाद हो गया. इस पर आरोपी बच्ची के पिता को जाते-जाते देख लेने की धमकी दे गया. 30 मई को बच्ची लापता हुई तो माता-पिता का इस घटना की ओर ध्यान ही नहीं गया. बच्ची के पिता ने बच्ची के लापता होने पर पुलिस को बताया कि उसकी किसी से रंजिश या दुश्मनी नहीं. इसके बाद 2 जून को बच्ची का शव आरोपी के घर के बाहर कूड़े के ढेर में पाया गया. इसके बाद पुलिस ने आरोपी को 4 जून को गिरफ्तार किया. आरोपी का नाम जाहिद है. इस मामले में आरोपी के एक साथी असलम को भी गिरफ्तार किया गया है.

Latest Post