Home / breaking news
अंजान एप्लीकेशन के इस्तेमाल से बचें युवा -एसडीपीओ अमर कुमार पांडे

अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी सदर चाईबासा ने कॉलेज के छात्रों को दिया प्रशिक्षण

अंजान एप्लीकेशन के इस्तेमाल से बचें युवा -एसडीपीओ अमर कुमार पांडे

संतोष वर्मा

चाईबासा। अमर कुमार पांडे अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी सदर चाईबासा ने आज सदर थाना में विभिन्न कॉलेज से आए छात्रों को पुलिस- प्रशासन कैसे काम करती है इसके बारे में जानकारी तथा प्रशिक्षण दिया। छात्रों ने भी प्रशिक्षण कार्यक्रम में बढ़-चढ़कर भाग लिया तथा पूरी रुचि के साथ पुलिस प्रशासन के कार्य प्रणाली के बारे में जाना।
छात्रों को पुलिस प्रशासन के विभिन्न विभाग के बारे में जानकारी दी गई, विभिन्न थाना के बारे में जानकारी दी गई, साथ ही उन्हें अंजान एप्लीकेशन तथा सोशल मीडिया के गलत प्रयोग से कैसे बचें इसके बारे में भी जानकारी दी गई।

इन बिंदुओं के बारे में दी गई जानकारी

पुलिस की मूल भूमिका ,लॉ एंड ऑर्डर, इन्वेस्टिगेशन,सहायक कार्य जैसे कैरक्टर पासपोर्ट तथा पुलिस वेरिफिकेशन के बारे में दी गई जानकारी। राज्य स्तरीय पुलिस प्रशासन , पुलिस प्रशासन के विभिन्न विभाग तथा उनके कार्य प्रणाली के बारे में जानकारी दी गई कैसे पूरी पुलिस प्रशासन कार्य करती है।
पुलिस कंट्रोल रूम 100 नंबर के बारे में छात्रों को जानकारी दी गई कि 24 घंटे इस हेल्पलाइन नंबर के जरिए हम मुसीबत में पुलिस से संपर्क कर सकते हैं तथा वह हमारी मदद के लिए सदैव तत्पर है। साथ ही उन्होंने शक्ति एप्लीकेशन की भी जानकारी दी। शक्ति एप का निर्माण मुख्य रूप से महिलाओं की सुरक्षा के लिए किया गया है अगर कोई भी महिला मुसीबत में होती है तो वह शक्ति एप्लीकेशन के जरिए शीघ्र ही पुलिस को संपर्क कर सकती है।अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी ने छात्रों को एफ आई आर के बारे में भी समझाया। किस परिस्थिति में एफ आई आर दर्ज करनी चाहिए तथा एफ आई आर दर्ज करना क्यों महत्वपूर्ण होता है साथ ही उन्होंने बताया कि कभी-कभी एफ आई आर दर्ज करने में जनता को किन समस्याओं का सामना करना पड़ता है।साइबर फ्रॉड से कैसे बचना है इसके बारे में भी जानकारी दी गयी कि किसी भी अनजान नंबर से कोई भी व्यक्ति अगर कॉल कर के कहे कि हम बैंक के अधिकारी हैं तथा आपका एटीएम या बैंक से रिलेटेड कुछ गुप्त जानकारी चाहते हैं तो उन्हें किसी भी हाल में हमें जानकारी शेयर नहीं करनी है तथा ऐसा होने पर नजदीकी थाने में जाकर शिकायत भी दर्ज करनी है। छात्रों को जानकारी दी गई कि आजकल सोशल मीडिया तथा अंजान एप्लीकेशन के माध्यम से भी लोगों को ठगा तथा फंसाया जाता है इससे बचने के लिए इन सबको सावधानीपूर्वक इस्तेमाल करें।