Home / breaking news

Oct,01,2020 02:20:10

जिला समाज कल्याण विभाग व सामेतिक बाल विकास परियोजना के संयुक्त तत्वावधान में राष्ट्रीय पोषण माह का समापन समारोह डीडीसी के अध्यक्षता में संपन्न
Image Image

Nizam Khan

*जिला समाज कल्याण विभाग व सामेतिक बाल विकास परियोजना के संयुक्त तत्वावधान में राष्ट्रीय पोषण माह 2020 का समापन समारोह उप विकास आयुक्त श्री नमन प्रियेश लकड़ा (भा.प्र.से.) के अध्यक्षता में संपन्न।*

*मौके पर सीडीपीओ नाला श्रीमती सविता कुमारी द्वारा स्व रचित पोषण से संबंधित कविता गाकर सुनाया गया*

*कुपोषण को मिटाने के लिए लोगों को जागरूक होना होगा:-उप विकास आयुक्त श्री नमन प्रियेश लकड़ा (भा.प्र.से.)*

समाहरणालय परिसर स्थित प्रशिक्षण भवन में जिला समाज कल्याण विभाग व सामेतिक बाल विकास परियोजना के संयुक्त तत्वावधान में राष्ट्रीय पोषण माह 2020 का समापन समारोह का आज दिनांक 01 अक्टूबर 2020 को उप विकास आयुक्त श्री नमन प्रियेश लकड़ा (भा.प्र.से.) के अध्यक्षता में आयोजित किया गया है।

*कार्यक्रम का विधिवत उद्घाटन उप विकास आयुक्त श्री नमन प्रियेश लकड़ा (भा.प्र.से.), डीआरडीडीए निदेशक श्री रामवृक्ष महतो, भू अर्जन पदाधिकारी श्रीमती अंजना दास, सीडीपीओ ने दीप प्रज्वलित कर किया।*

पोषण माह कार्यक्रम में जिला में उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिए सीडीपीओ/ सेविकाओं/किशोरी/पर्यवेक्षिका को सम्मानित उप विकास आयुक्त ने प्रशस्ति पत्र दे कर किया।

इस दौरान उप विकास आयुक्त ने कहा कि जीवन में हरेक शख्स की अपनी महत्ता व उपयोगिता होती है। हरेक शख्स बहुत महत्वपूर्ण है। जीवन के हर एक मोड़ पर उनका योगदान बहुत महत्वपूर्ण होता है। सभी को अपने कार्यों में अपना पूरा कौशल लगाना चाहिए।

उप विकास आयुक्त श्री नमन प्रियेश लकड़ा(भा.प्र.से.) ने कहा की 01 सितम्बर से 30 सितंबर चल रहे पोषण माह अभियान का समापन हो गया।

पोषण माह को सफल बनाने के लिए पूरे माह तमाम गतिविधियों का आयोजन समाज कल्याण विभाग के अधिकारियों/सीडीपीओ/पर्यवेक्षिका/ किशोरी/ सेविका ने लोगों को पोषण के महत्व और उद्देश्य के बारे में विस्तारपूर्वक बताया और लोगों को जागरूक किया। इसके लिए सभी को उप विकास आयुक्त ने सबसे पहले बधाई दिया साथ ही आगे भी इससे अच्छा कार्य करने हेतु निर्देश दिया गया।

*पूरे माह हुए तमाम गतिविधियों का साकारात्मक बदलाव भी दिखने को मिल रहा है*

उप विकास आयुक्त ने कहा की लोगों को कुपोषण मुक्त समाज के निर्माण के लिए आवश्यक जानकारी दी गई ताकि लोग पोषण का महत्व और उद्देश्य समझ सकें। हालांकि, पूरे माह हुए तमाम गतिविधियों का साकारात्मक बदलाव भी दिखने लगा है।कुछ लोगों ने अपनी सामान्य दिनचर्या में बदलाव लाना शुरू कर दिया है जो सामुदायिक स्तर पर साकारात्मक बदलाव का प्रतीक है।

उप विकास आयुक्त ने बताया कि पोषण माह को सफल बनाने में हर विभाग का भरपूर सहयोग आपेक्षित था। इसी का परिणाम है कि पोषण माह पूर्ण रूप से सफल रहा है ।

उप विकास आयुक्त ने बताया कि इस दौरान पूरे माह तमाम गतिविधियों के माध्यम से समाज के प्रत्येक व्यक्ति को बच्चों के जन्म के साथ उनका उचित रहन, पोषण, देखरेख से लेकर हर आयु वर्ग के लोगों तक के लिए उचित पोषण, रहन-सहन में बदलाव समेत अन्य जानकारियां दी गईं।

*ग्रामीण और गरीब परिवारों को पोषण युक्त भोजन मिले, इसके लिए ग्रामीण विकास विभाग ने मनरेगा के तहत पूरे राज्य में दीदी बाड़ी योजना शुरू की है:- उप विकास आयुक्त*

उप विकास आयुक्त ने बताया की जिले के ग्रामीण और गरीब परिवारों को पोषण युक्त भोजन मिले, इसके लिए ग्रामीण विकास विभाग ने मनरेगा के तहत पूरे राज्य में दीदी बाड़ी योजना शुरू की है। इसके तहत अपने घर के आसपास की जमीन में अपने परिवार के पोषण की आवश्यकता के अनुसार पोषण युक्त सब्जियों समेत अन्य फलों का उत्पादन किया जाना है। यह राज्य सरकार की नई योजना है। इस योजना से आंगनबाड़ी सेविकाओं को भी जोड़ा जाएगा।

उप विकास आयुक्त ने इस योजना के उद्देश्य से सभी को अवगत कराया। कहा कि इससे ग्रामीण महिलाओं को जहां रोजगार मिलेगा वहीं कुपोषण की समस्या से भी उन्हें निजात मिलेगा वह आर्थिक रूप से सबल भी होंगी और स्वास्थ्य रहेगी। साथ ही बताया कि पोषण युक्त भोजन की समस्या को ध्यान में रखते हुए दीदी बाड़ी योजना की शुरुआत की गई है।

*दिनांक 3 अक्टूबर 2020 को Covid-19 विशेष कैंप का आयोजन किया जाएगा*

उप विकास आयुक्त ने बताया कि दिनांक 3 अक्टूबर 2020 को जामताड़ा जिले के सभी प्रखंडों मैं कोविड-19 विशेष जांच कैंप का आयोजन किया जाएगा। उप विकास आयुक्त द्वारा सभी से अपील किया गया कि वे अपने स्तर से भी प्रचार प्रसार करेंगे ताकि ज्यादा से ज्यादा लोग कोविड-19 का टेस्ट कराएं।ताकि covid-19 के संक्रमण के प्रसार को रोका जा सके। आंगनवाड़ी सेविका लोगों के मोबिलाइज का कार्य करेंगे।

*हम सभी को मिल कर कुपोषण को मिटाने के लिये चरणबद्ध कार्य करने की आवश्यकता:- डीआरडीए निदेशक*

डीआरडीए निदेशक श्री राम वृक्ष महतो द्वारा सबसे पहले सभी समाज कल्याण विभाग से संबंधित टीम को पोषण माह के सफल संचालन हेतु बधाई दी गई। तत्पश्चात कहा कि कुपोषण को मिटाने के लिए लोगों को जागरूक होना होगा। जिसका दूरगामी परिणाम आएगा। लोगों के कुपोषित होने का सबसे मुख्य कारण जानकारी व जागरूकता की कमी है। इसे दूर करने के लिए आंगनबाड़ी सेविका-साहायिकाओं के साथ साथ हम सभी को कार्य करना होगा। सभी के सहयोग से ही दूर किया जा सकता है।

पोषण अभियान अंतर्गत गर्भवती महिलाएं, धात्री माताओं तथा नवजात शिशु एवं किशोरियों के बेहतर स्वास्थ्य की ओर एक सकारात्मक कदम है।
साथ ही कहा कि हम सभी को मिल कर कुपोषण को मिटाने के लिये चरणबद्ध कार्य करने की आवश्यकता है।

मौके पर भू अर्जन पदाधिकारी श्रीमती अंजना दास, कार्यपालक दंडाधिकारी श्री देव राम भगत, सीडीपीओ नाला श्रीमती सविता कुमारी, कुंडहित श्रीमती रीता बेसरा, कृषि विज्ञान केंद्र वैज्ञानिक श्रीमती करुणा कुमारी, परियोजना पदाधिकारी मोतिउर रहमान, स्वच्छ भारत प्रेरक नलिनी चौबे,लिपिक श्री संजय कुमार सिंह सहित अन्य संबंधित पदाधिकारी सेविका सहित अन्य उपस्थित थे।

Latest Post